Homeदेशपीएमजीएसवाई की लापरवाही से ऊखीमठ - उनियाणा - रासी मोटर मार्ग जानलेवा,पढ़ें...

पीएमजीएसवाई की लापरवाही से ऊखीमठ – उनियाणा – रासी मोटर मार्ग जानलेवा,पढ़ें पूरी ख़बर

ऊखीमठ से वरिष्ठ पत्रकार लक्ष्मण सिंह नेगी की रिपोर्ट –

ऊखीमठ! पीएमजीएसवाई की लापरवाही से ऊखीमठ – उनियाणा – रासी मोटर मार्ग जानलेवा बना हुआ है जिससे राहगीरों को जान जोखिम में डालकर आवाजाही करने पड़ रही है! विभाग द्वारा मोटर मार्ग के रख – रखाव पर प्रति वर्ष लाखों रुपये व्यय तो किये जाते है मगर विभागीय अधिकारियों की जेबों में मोटा कमीशन व मोटर मार्ग के रख – रखाव पर कम धनराशि व्यय होने से मोटर मार्ग प्रति माह जर्जर बनता जा रहा है!

क्षेत्रीय जनता द्वारा वर्ष 2018 से मोटर को दुरुस्त करने की मांग की जा रही है मगर शासन – प्रशासन व विभाग की मिलीभगत से जनता की आवाज फाइलों में कैद है! पांच वर्षीय अनुरक्षण के बाद मोटर मार्ग को लोक निर्माण विभाग को स्थान्तरित होना था मगर मोटर मार्ग की दुर्दशा को देखकर लोक निर्माण विभाग ने मोटर मार्ग को स्थान्तरित करने से इनकार कर दिया है!

बता दे कि पीएमजीएसवाई के द्वारा 3 जुलाई 2014 को लगभग 865 :50 लाख रूपये की लागत से ऊखीमठ – उनियाणा – रासी मोटर का डामरीकरण व सुधारीकरण कार्य शुरू किया गया था तथा 3 जनवरी 2016 को मोटर मार्ग का डामरीकरण व सुधारीकरण कार्य पूरा होना था मगर मोटर मार्ग पर करोड़ों रुपये का कार्य शुरू होते ही मोटर मार्ग विवादों में घिर गया था!

मोटर मार्ग के डामरीकरण व सुधारीकरण की गुणवत्ता को दरकिनार किये जाने से विभागीय कार्यप्रणाली सवालों के घेरे में आ गयी थी तथा वर्ष 2018 में मदमहेश्वर घाटी विकास मंच व स्थानीय जनप्रतिनिधियो को आन्दोलन के लिए बाध्य होना पड़ा था!

इन दिनों विभाग द्वारा मोटर मार्ग के रख – रखाव पर दैवीय आपदा मद से लगभग 31 लाख रूपये व्यय करने के बाद भी मोटर मार्ग जानलेवा बना हुआ है जिससे मदमहेश्वर घाटी के दर्जनों गांवों के ग्रामीणों को जान हथेली पर रखकर आवाजाही करने पड़ रही है !

जिला पंचायत सदस्य कालीमठ विनोद राणा का कहना है कि विभागीय लापरवाही से मोटर मार्ग गडढो़ में तब्दील होता जा रहा है जिससे मोटर मार्ग पर सफर करना खतरे से खाली नहीं है! प्रधान रासी कुन्ती नेगी का कहना है कि विभागीय अधिकारियों को मोटा कमीशन जाने से मोटर मार्ग जर्जर बना हुआ है!

मदमहेश्वर घाटी विकास मंच अध्यक्ष मदन भटट् का कहना है कि विभागीय अधिकारियों को बार – बार अवगत कराने के बाद भी मोटर की हालात जानलेवा बनी हुई है! वही दूसरी ओर विभागीय अधिकारियों का कहना है कि जगह – जगह भूधसाव के कारण कुछ स्थानों पर मोटर मार्ग जर्जर बना हुआ है मौसम रूकते ही मलवे को हटा दिया जायेगा!

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments