Homeकरियरजिलाधिकारी द्वारा की गई कौशल विकास केंद्रों की वर्तमान स्थिति की गहन...

जिलाधिकारी द्वारा की गई कौशल विकास केंद्रों की वर्तमान स्थिति की गहन समीक्षा

ऊखीमठ से वरिष्ठ पत्रकार लक्ष्मण सिंह नेगी की रिपोर्ट –

ऊखीमठ! जिला कार्यालय कक्ष में जिला अधिकारी(Collector) मनुज गोयल की अध्यक्षता में प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना एवं दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना की समीक्षा बैठक आयोजित की, गई। बैठक में कौशल विकास केंद्रों की वर्तमान स्थिति की गहन समीक्षा की गई।

यह भी पढ़ें :सौर भूतनाथ तीर्थ में मिलता हैं मन इच्छित फल ,आप भी जानें महिमा


बैठक में जिलाधिकारी(Collector) ने दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना की निम्न प्रगति पर नारजगी व्यक्त करते हुए योजना में प्रगति लाने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी द्वारा स्पष्ट निर्देश दिए गए हैं कि दोनों योजनाओं दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना व राष्ट्रीय कौशल विकास मिशन के अंतर्गत आवंटित लक्ष्यों के सापेक्ष प्रशिक्षण प्रदान कर जनपद के युवाओं को अधिक से अधिक लाभान्वित किया जाए।

यह भी पढ़ें :Latest Garhwali Dj 2020:जानिए क्या हुआ जब राजू ठेकेदार गया लड़की देखने

दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना के सम्बंध में सहायक परियोजना निदेशक रमेश चंद्र द्वारा अवगत कराया गया कि जनपद के लिए आवंटित सहयोगी संस्थाओं के संचालकों से प्रशिक्षण हेतु निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं जिनका विधिवत संचालन दिसंबर माह के अंत तक हो सकेगा।
समीक्षा बैठक में कौशल विकास के नोडल अधिकारी जिला सेवायोजन अधिकारी (Collector)कपिल पांडे द्वारा जानकारी दी गई कि जनपद में उत्तराखंड कौशल विकास मिशन का कोई भी केंद्र वर्तमान तक संचालित नहीं है।

यह भी पढ़ें :Teru Meru Milanu:इस गढ़वाली गीत में झलका दो प्रेमियों का दर्द , वीडियो ज़रूर देखें

वर्तमान में देहरादून की एक संस्था, एसेट इंफोटेक से अनुबंध किया जा चुका है जिसके द्वारा निकट भविष्य में जनपद मुख्यालय में कौशल केंद्र स्थापित किया जाएगा जिसके माध्यम से यहां के युवाओं को विभिन्न रोजगार परक प्रशिक्षण का लाभ मिल सकेगा। जनपद में पूर्व से राष्ट्रीय कौशल विकास मिशन के दो केंद्र संचालित है लेकिन वर्तमान में महामारी के कारण बंद चल रहे थे। दोनों केंद्रों के खोलने की कार्यवाही की जा रही है, तथा दिसंबर माह के अंत तक दोनों केंद्रों में संचालित पाठ्यक्रम संचालित हो सकेंगे।

यह भी पढ़ें :पी एम जी एस वाई की लापरवाही से भणज – अखोडी मोटर मार्ग जानलेवा


इस अवसर पर जिला सेवायोजन अधिकारी कपिल पांडे सहायक परियोजना निदेशक ग्रामीण विकास रमेश चंद्रा, संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम की जनपद की संयोजक सुश्री दीपिका चंद्रा, महात्मा गांधी नेशनल फेलोशिप कार्यक्रम के अंतर्गत कार्यरत धीरज राठौर, ग्राम्य विकास की ओर से श्रीमती भावना पँवार एवं सेवायोजन कार्यालय के अनुदेशक श्री किशन रावत उपस्थित थे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments